ऑस्‍ट्रेलियाई टीम के 10 खिलाड़ी हड़ताल पर गए तो इस धुरंधर ने किया डेब्‍यू, समुद्र में डूबकर हो गई मौत

 कहते हैं कि किसी खिलाड़ी की जिंदगी में उसकी सफलता की राह में मेहनत का काफी बड़ा योगदान होता है. लेकिन कई बार मेहनत के साथ किस्‍मत भी बेहद जरूरी हो जाती है. ऐसी ही अनूठी किस्‍मत पाई थी इस धुरंधर क्रिकेटर ने. किसी टीम में किसी खिलाड़ी की बदकिस्‍मती किसी दूसरे खिलाड़ी के लिए अवसर लेकर आती है. वो इसलिए क्‍योंकि कई बार टीम के एक या दो खिलाड़ी अचानक ही टीम से बाहर हो जाते हैं तो नए खिलाडि़यों को मौका मिलता है, लेकिन इस मामले में एक दो नहीं, बल्कि ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट टीम (Australia Cricket Team) के दस खिलाड़ी टीम से बाहर हो गए. इसी के बाद विलियम ब्रूस (William Bruce) को अपने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट करियर का आगाज मैच खेलने का मौका मिला. मगर ये कहानी इतनी ही नहीं है, आपको बताते हैं इससे जुड़ी और भी दिलचस्‍प बातें.

दरअसल, ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के सदस्‍य रहे विलियम ब्रूस की बात आज हम इसलिए कर रहे हैं क्‍योंकि साल 1925 में आज ही के दिन यानी 3 अगस्‍त को उनका निधन हुआ था. ब्रूस की एलवुड में समुद्र में डूबकर जान चली गई थी. इससे एक साल पहले उन पर एनफ्लुएंजा का अटैक हुआ था जिसके बाद वो अवसाद से घिर गए थे. विलियम ब्रूस के टेस्‍ट डेब्‍यू की कहानी भी काफी दिलचस्‍प है. दरअसल, उन्‍होंने साल 1884-85 में इंग्‍लैंड के खिलाफ किया था. वो भी तब जब ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के 10 सदस्‍य मैच से ठीक पहले अपनी कुछ मांगों को लेकर हड़ताल पर चले गए थे.

145 मैचों में 5 हजार से ज्‍यादा रन और 143 विकेट

बाएं हाथ के बल्‍लेबाज और बाएं हाथ से गेंदबाजी करने वाले विलियम ब्रूस ने ऑस्‍ट्रेलिया के लिए कुल 14 टेस्‍ट मैचों में हिस्‍सा लिया. इनमें 26 पारियों में केवल 2 बार नाबाद रहते हुए उन्‍होंने 29.25 की औसत से 702 रन बनाए. इसमें उच्‍चतम स्‍कोर 80 रनों का रहा. उन्‍होंने टेस्‍ट क्रिकेट में पांच अर्धशतक भी लगाए. इस प्रारूप में गेंदबाजी में भी हाथ दिखाए और 12 बल्‍लेबाजों को अपना शिकार बनाया. पारी में उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन 88 रन देकर तीन विकेट का रहा. जहां तक प्रथम श्रेणी करियर की बात है तो उन्‍होंने 145 मुकाबलों में हिस्‍सा लिया. इनमें 250 पारियों में 11 बार नाबाद रहते हुए 23.97 की औसत से 5731 रन बनाए. इस दौरान उनके बल्‍ले से चार शतक और 28 अर्धशतक निकले. उनका उच्‍चतम स्‍कोर 191 रनों का रहा. वहीं 102 कैच भी उन्‍होंने लपके. प्रथम श्रेणी मैचों में गेंदबाजी करते हुए विलियम ब्रूस ने 143 बल्‍लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई. इस दौरान पारी में सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन 72 रन देकर सात विकेट के तौर पर किया गया.