विराट कोहली के योद्धा ने सिर्फ 46 गेंदों पर जड़ा शतक, मगर शराब, मारपीट और लापरवाही से खत्‍म हुआ करियर

 क्रिकेट के खेल में तमाम उदाहरण ऐसे हैं जब खिलाड़ी अपनी प्रतिभा के साथ न्‍याय नहीं कर पाए. बल्‍लेबाजी या गेंदबाजी का उनका कौशल मैदान के बाहर उनकी हरकतों या मैदान पर उनकी लापरवाही के चलते कहीं नीचे दब जाता है. हर टीम में इस तरह का कोई न कोई खिलाड़ी हमें नजर आ ही जाती है. कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम का अहम सदस्‍य रहा ये खिलाड़ी भी ऐसा ही है. सिर्फ 46 गेंदों पर हाहाकरी शतक जड़ने वाले इस खिलाड़ी का करियर आखिरकार शराब की उसकी आदत, मारमीट के उसके मामलों और लापरवाही के चलते उसका क्रिकेट करियर ही खत्‍म हो गया. इस खिलाड़ी का आज ही के दिन यानी 6 अगस्‍त को जन्‍म हुआ था.

दरअसल, हम बात कर रहे हैं न्‍यूजीलैंड (New Zealand Cricket Team) के प्रतिभाशाली क्रिकेटर जेसी राइडर (Jesse Ryder) की. राइडर का जन्‍म 6 अगस्‍त 1984 को वेलिंगटन में हुआ था. कीवी टीम के लिए 18 टेस्‍ट, 48 वनडे और 22 टी20 खेलने वाले राइडर ने इंडियन प्रीमियर लीग में भी हिस्‍सा लिया. इस लीग में उन्‍होंने विराट कोहली की अगुआई वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए क्रिकेट खेला. राइडर आरसीबी के साथ 2009 में जुड़े थे. हालांकि इस सीजन वो 2009 से 2012 तक पुणे वॉरियर्स टीम का हिस्‍सा रहे. आईपीएल में जेसी राइडर ने 29 मैच खेले. इनमें उन्‍होंने 21.57 के औसत और 131.87 के स्‍ट्राइक रेट से 604 रन बनाए. वहीं 8 विकेट भी उनके नाम रहे. 1 जनवरी 2014 को कोरी एंडरसन ने जिस मुकाबले में 36 गेंदों पर सबसे तेज शतक जड़कर इतिहास रचा था, उसी मैच में राइडर ने 46 गेंदों पर 104 रन की धुआंधार पारी खेली थी.

एक के बाद एक मुसीबतों से घिरे

जेसी राइडर अक्‍सर खुद को मुसीबत में डाल लेते थे. उन्‍होंने 2008 में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में डेब्‍यू किया. उन्‍होंने वनडे और टेस्‍ट में अपना पहला शतक भारतीय टीम के खिलाफ जड़ा. साल 2012 में उन्‍होंने शराब की लत और चोटिल होने के चलते रिहैबिलिटेशन के लिए क्रिकेट से कुछ समय के लिए ब्रेक ले लिया. इस साल उन्‍हें न्‍यूजीलैंड क्रिकेट टीम का सेंट्रल कांट्रेक्‍ट भी नहीं दिया गया. उन्‍होंने वापसी के लिए अपनी फिटनेस और खेल पर काम किया और घरेलू क्रिकेट में वापसी की. मार्च 2013 में जब उनका अच्‍छा समय लौटता दिख रहा था तभी क्राइस्‍टचर्च में एक बार के बाहर हुई मारमीट में वो घायल हो गए. सात महीने बाद उनकी प्रतिस्‍पर्धी क्रिकेट में वापसी हुई. इसके बाद 2014-15 में भारत दौरे के लिए उन्‍हें टीम में शामिल किया गया. हालांकि अनुशासनहीनता के मामले में उन्‍हें फिर टीम से बाहर कर दिया गया. फिर 2015 वर्ल्‍ड कप की टीम से भी उनका नाम नदारद था.

राइडर का करियर प्रोफाइल

न्‍यूजीलैंड के लिए जेसी राइडर ने 18 टेस्‍ट मैचों में 40.93 की औसत से 1269 रन बनाए. इसमें तीन शतक और छह अर्धशतक शामिल रहे. उनका उच्‍चतम स्‍कोर 201 रन का रहा. टेस्‍ट में उनके नाम पांच विकेट दर्ज हैं. वहीं 48 वनडे में उन्‍होंने 33.21 की औसत से तीन शतक और छह अर्धशतकों के साथ 1362 रन बनाए. इस प्रारूप में उन्‍होंने गेंदबाजी में 12 बल्‍लेबाजों का शिकार किया. राइडर ने टीम के लिए 22 टी20 मैच भी खेले, जिनमें 22.85 की औसत से 457 रन बनाने के अलावा 2 विकेट उनके खाते में दर्ज हुए.