जिनके पास है पैन कार्ड, उनके लिए SBI का अलर्ट! जल्द कर लें ये काम वर्ना नहीं कर पाएंगे बैंक के काम

 स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने ग्राहकों को कई सुविधाएं देने के साथ ही समय समय पर लोगों को जागरुक भी करता रहता है. बैंक की ओर से साइबर फ्रॉड से बचने के लिए भी काफी कदम उठाए गए हैं और लोगों को जागरुक किया जा रहा है. साथ ही अब बैंक ने अपने ग्राहकों को आधार कार्ड और पैन कार्ड को लेकर अलर्ट जारी किया है, जिससे ग्राहकों को आने वाले समय में दिक्कत ना हो. दरअसल, बैंक ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बताया है कि जिन ग्राहकों ने अभी तक अपना आधार और पैन कार्ड लिंक नहीं किया है, उन्हें यह जल्द से जल्द कर लेना चाहिए.

साथ ही बैंक ने बताया है कि जो भी ग्राहक आखिरी तारीख से पहले आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक नहीं करवाते हैं, तो उन्हें काफी मुश्किल हो सकती है. इसके साथ ही उन्हें आगे बैंकिंग सर्विस का पूरा फायदा उठाने में भी काफी मुश्किल हो सकती हैं. ऐसे में जानते हैं कि आधार कार्ड-पैन कार्ड को लिंक करवाने का क्या नियम है और किस तरह से ग्राहकों को लिंक करवाना होगा. जानते हैं इससे जुड़ी हर एक बात…

क्या है नियम?

दरअसल, सरकार ने काफी समय पहले पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करवाना अनिवार्य कर दिया था. इसके बाद सरकार ने इसके लिए कई आखिरी तारीख भी तय कर दी, लेकिन हर बात इसे आगे के लिए बढ़ा दिया जाता है. अब इसे लिंक करने की आखिरी तारीख 30 सितंबर है और इससे पहले पैन कार्ड को आधार से लिंक करवाना आवश्यक है. ऐसा ना होने पर पैन कार्ड काम करना बंद कर देगा और एक बार पैन कार्ड बंद होने के बाद इसे चालू करवाने पर जुर्माना भी देना पड़ सकता है.

कैसे लिंक करें आधार-पैन?

ऑनलाइन पैन से आधार को लिंक करने का सबसे आसान है कि आप इनकम टैक्स की नई वेबसाइट पर जाएं. नए https://www.incometax.gov.in/iec/foportal पर जाएं. इसके बाद वहां उपलब्ध सुविधाओं में से Link Aadhar’ पर क्लिक करें. एक नया पेज खुल जाएगा. इसमें आपको PAN, आधार नंबर, आधार पर मौजूद अपना नाम और मोबाइल नंबर भरना है. अगर आपके आधार में केवल जन्म का वर्ष लिखा है तो आपको इस विकल्प पर टिक लगाना होगा- ‘I have only year of birth in Aadhaar card’.

किन लोगों को मिली है छूट?

बैंक की ओर से शेयर की गई जानकारी के अनुसार, असम, मेघालय, जम्मू और कश्मीर केंद्रीय शासित प्रदेश के रहने वाले लोगों को इससे छूट दी गई है. इनके अलावा इनकम टैक्स एक्ट 1961 के अनुसार बताए गए नॉन रेसिडेंट को भी छूट है. साथ ही जिन लोगों की उम्र पिछले साल 80 साल या उससे ज्यादा हो गई है, उन्हें इस नियम से बाहर रखा गया है. जो भारत के नागरिक नहीं है, उन्हें भी आधार और पैन कार्ड को लिंक करवाने की आवश्यकता नहीं है.