एक बूँद से सागर नहीं बनता, रोने से मुक़द्दर नहीं बनता, पटाना है तो पूरा गर्ल्स हॉस्टल पटाओ, एक लड़की पटाके कोई सिकंदर नहीं बनता।

टीपू उदास बैठा था।

तभी उसकी अम्मी खिचड़ी लेकर आई,

और बोली लो खिचड़ी खा लो “

टीपू : मुझसे नहीं खाया जाता, उसके बिना “

अम्मी ने चप्पल निकाला और : किसके बिना.. कौन है वो ?

टीपू ( हड़बड़ा कर ) : अचार.. अम्मी अचार “

 

जब जज ने एक बंदे से उसकी आखरी ख्वाहिश पूछी, उसका जवाब सुनकर हंसते-हंसते पागल हो जाएंगे

लंपट पौधों को पानी दे रहा था, तभी उसकी बीवी आई।

बीवी : मैंने तुम्हारे मोबाइल में कुछ देखा है। पौधों को पानी दे दो..

फिर कुछ बात करनी है तुमसे “

3 दिन हो गए लंपट पानी का पाइप छोड़ ही नहीं रहा है।

 

बीवी से परेशान उमेश बाबा के पास गया।

उमेश : बाबा.. यह जन्म-जन्म वाली बात, सच है क्या ?

बाबा : 100 फ़ीसदी.. सच है “

उमेश : इसका मतलब.. मुझे अगले जन्म में भी यही बीवी मिलेगी ?

बाबा : हां.. बिल्कुल “

उमेश हाथ उठाकर : हे भगवान.. फिर तो खुदकुशी का कोई फायदा ही नहीं “

 

दोस्तों अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई तो लाइक करें, शेयर करें अपने दोस्तों के साथ व्हाट्सएप और फेसबुक पर और हमें फॉलो जरूर करें.. शुक्रिया

Comments are closed.