मैंने कहा मौत से कि थोड़े दिन टल जा, मौत बोली तेरी किसी को जरूरत नहीं चल आ, मैंने कहा कोई है जो मेरे लिए जीता है, मौत बोली इसलिए पानी की जगह तू रोज आंसू पीता है

 

बहुत अच्छा लगता है जब तुम हंसते हो, तेरी यही एक मुस्कान है जान हमारी.

1. मैंने कहा मौत से कि थोड़े दिन टल जा, मौत बोली तेरी किसी को जरूरत नहीं चल आ.

मैंने कहा कोई है जो मेरे लिए जीता है, मौत बोली इसलिए पानी की जगह तू रोज आंसू पीता है.

2. उम्मीदों को टूटने मत देना, इस दोस्ती को कम होने मत देना.

दोस्त मिलेंगे हमसे भी अच्छे, पर इस दोस्त की जगह किसी को लेने मत देना.

3. बहुत अच्छा लगता है जब तुम हंसते हो, तेरी यही एक मुस्कान है जान हमारी.

दोस्तों अगर आपको मेरी यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें. ऐसे ही और पोस्ट रोजाना पाने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें.

Comments are closed.