सेना कर्नल का निधन, अंतिम संस्कार के लिए परिजन कर रहें 2000 किलोमीटर का सफर

सेना के कर्नल का निधन ,अंतिम संस्कार के लिये परिजन कर रहें 2000 किलोमीटर का सफर

देश मे लॉक डाउन के चलते सभी जगह बंद हैं। इसी बीच सेना के कर्नल शौर्य चक्र से सम्मानित नवजोत सिंह बल के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिये उनके परिजनों को 2000 किलोमीटर की यात्रा करनी पड़ रही हैं। और यह सफर उन्हें सड़क मार्ग से तय करना पड़ रहा हैं। दिवंगत अधिकारी के परिवार के सदस्य ने यह जानकारी दी हैं।

अधिकारियों ने बताया कि कैंसर से पीड़ित कर्नल नवजोत सिंह बल का गुरुवार को बेंगलुरु में निधन हो गया हैं।अधिकारी के भाई नवतेज सिंह बल अमृतसर से शुरू हुई उनकी यात्रा के बारे में बता रहें हैं।उन्होंने शुक्रवार को ट्वीट किया था कि फिलहाल मेरे परिजन दिल्ली में हैं। और हम बेंगलुरु जाने के लिये रास्ता तलाश रहें हैं। उन्होंने फिर ट्वीट किया सहयोग के लिये सभी का धन्यवाद। हम वड़ोदरा पहुँचने वाले हैं। सुरक्षा बलों की और से रास्ते मे बहुत ही मदद और सहयोग मिला। सब कुछ सही रहा तो हम कल रात बेंगलुरु पहुँच जाएंगे।

वहीं शनिवार को नवतेज सिंह ने फिर ट्वीट कर बताया कि हम बेंगलुरु से 650 किलोमीटर दुर हैं। पुलिस और सुरक्षा बलों से बहुत सहयोग मिल रहा हैं। हर कोई आगे आकर कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये शानदार काम कर रहा हैं।

पूर्व सेना प्रमुख (सेनानिवृत) वी पी मलिक ने कर्नल बाल के भाई की पोस्ट पर जवाब देते हुए ट्वीट किया, ‘विनम्र संवेदना! आपकी यात्रा शुभ रहे। भारत सरकार की ओर से कोई मदद न मिलना दुखद। नियम कोई पत्थर की लकीर नहीं। विशेष परिस्थितियों में उनमें संशोधन किया जा सकता है या बदला जा सकता है।’

Comments are closed.