शून्य पर आउट हुए शिखर धवन, राहुल के खेली जबरदस्त पारी, पार्थिव और मनीष पांडे भी चमके

विजय हजारे ट्रॉफी में आज कर्नाटका और पुडुचेरी के बीच बेंगलुरु में पहला क्वार्टर फाइनल खेला गया और बेंगलुरु में ही दिल्ली और गुजरात के बीच दूसरा क्वार्टर फाइनल खेला गया।

कर्नाटका बनाम पुडुचेरी पहला क्वार्टर फाइनल-

कर्नाटका और पुडुचेरी के बीच खेले गए मैच में कर्नाटका ने टॉस जीता और पहले फील्डिंग करने का फैसला किया। पुडुचेरी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 9 विकेट के नुकसान पर 207 रन बनाए थे और कर्नाटका को 208 रनों का लक्ष्य दिया था।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी कर्नाटका की टीम ने 41 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 213 रन बना दिए और मैच 54 गेंद रहते 8 विकेट से जीत लिया। कर्नाटका की तरफ से देवदत्त पादिक्कल और रोहन कदम ने 50-50 रनों की पारी खेली।

कर्नाटका की तरफ से लोकेश राहुल सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। उन्होंने 112 गेंदों में 8 चौकों और 1 छक्के की मदद से 90 रनों की पारी खेली। इसके अलावा कप्तान मनीष पांडे ने 12 गेंदों में 20 रनों की पारी खेली।

गुजरात बनाम दिल्ली दूसरा क्वार्टर फाइनल-

गुजरात और दिल्ली के बीच खेले गए दूसरे क्वार्टर फाइनल में गुजरात ने टॉस जीता था और पहले फील्डिंग करने का फैसला किया था। पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली की टीम 49 ओवर में 223 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। दिल्ली की तरफ से कप्तान ध्रुव शौरे ने 109 गेंदों में सबसे ज्यादा 91 रन बनाएं।

दिल्ली की तरफ से ओपनिंग करने उतरे शिखर धवन इस मैच में अपना खाता भी नहीं खोल सके और वह 8 गेंदों में 0 रन बनाकर आउट हुए।

दिल्ली द्वारा दिए लक्ष्य का पीछा करने उतरी गुजरात की टीम ने 37.5 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 225 रन बना दिए और मैच 6 विकेट से जीत लिया। गुजरात की तरफ से प्रियांक पांचाल ने सबसे ज्यादा 80 रन बनाए। उनके अलावा कप्तान पार्थिव पटेल ने 60 गेंदों में 10 चौकों और 1 छक्के की मदद से 76 रनों की पारी खेली।

Comments are closed.