किसी ने सच ही कहा है दुनिया में नमूनों की कमी नहीं हैं, देखें ऐसे ही नमूनों की कुछ मजेदार तस्वीरें

आज की इस भागदौड़ भरी ज़िंदगी में लोगों को खुश रहने के लिए कम ही वक्त मिल पाता है। घर चलाने की ज़िम्मेदारियों ने आदमी को तनावग्रस्त कर दिया है। परीक्षा के बोझ ने बच्चों के चेहरे से हंसी गायब कर दी है और बच्चों के भविष्य की फिक्र ने माता-पिता की मुस्कान छीन ली है।
इतनी टेशन भरी ज़िंदगी में भला जीने के लिए कोई अहम वजह बची है क्या? लेकिन शुक्र है कि आज के दौर में सोशल मीडिया है जो थोड़ी-बहुत मज़ेदार जानकारियां देकर लोगों के मुरझाए चेहरों पर खुशी की कुछ चमक ला देता है। सोशल मीडिया के इसी समंदर से आज हम भी आपके लिए कुछ मज़ेदार तस्वीरें ढूंढकर लाए हैं।
इस टेंशनफुल ज़िंदगी में अगर इन तस्वीरों को देखकर आपके चेहरे पर थोड़ी सी भी मुस्कान आती है तो हमारे लिए इससे बढ़िया बात और भला क्या हो सकती है। तो चलिए देखते हैं आज 10 बेहद मज़ेदार तस्वीरें और करते हैं कोशिश आप सभी के चेहरे पर फिर से हंसी लाने की। कमेंट कर बताइएगा ज़रूर हम अपनी इस कोशिश में कितना कामयाब हुए हैं।

रोने के लिए उम्र पड़ी है, हंसने के लिए कुछ पल निकालो और इन 10 तस्वीरों को देख मुस्कुरा लो

 
 

01- खूब जमेगा रंग जब मिलकर करेगे तीन यार। अरे भई पोट्टी और क्या। वैसे बनाने वाले ने क्या सोचकर इसे बनाया होगा ये भी रिसर्च का विषय हो सकता है।

 
 

02- इस गांव के लोगों ने खूब कोशिश की। लेकिन उनका संपर्क सनी देओल से नहीं हो पाया। क्या करें, ये नल है कि उखड़ने के लिए तैयार ही नहीं है। सनी देओल आते तो कुछ मदद भी मिल जाती।

 
 

03- भाई साहब के अंदर हल्क जैसी ताकत आ गई और इन्होंने अपनी साइकिल से ही इस पेड़ की ये हालत कर दी। हालांकि इनकी खुद की हालत भी कोई ठीक नहीं है।

 
 

04- ये वही खटिया है जनाब जिसके बारे में लोग कहते हैं कि ये कभी खड़ी नहीं होती है। अब आप समझ गए होंगे कि इस खटिया को लोग क्यों नहीं खड़ा कर पाते होंगे।

 
 

05- भारत में हर मां-बाप चाहता है कि उसकी बेटी गाय जैसी सीधी हो। शादी के समय लोग कहते भी हैं कि लड़की गाय की तरह शरीफ और सीधी है। तो ऐसी लड़कियों के लिए खासतौर पर लॉन्च किए गए हैं ये सैंडल।

 
 

06- कहते हैं कि चीन में बनी चीज़ें भले ही सस्ती होती हों लेकिन इनकी गारंटी कोई नहीं होती है। तो चीनी गर्लफ्रेंड बनाने की कोशिश जब करें तो इस बात को ज़ेहन में रखें।

 
 

07- ये हम भारतीयों का क्रिकेट को लेकर क्रेज़ ही है जो हम नदी, नाले या फिर कीचड़ में बिना झिझके बॉल लेने के लिए घुस जाते हैं।

 
 

08- लगता है ये सज्जन कुछ ज़्यादा ही मसालेदार चीज़ खाकर आ गए होंगे। ये तो चलता-फिरता फायरमैन हो रहे हैं।

 
 

09- समझदार लोगों को मालूम चल गया होगा कि ये कौन सी अंग्रेजी की बात हो रही है।

 
 

10- हमारे बड़े-बूढ़ों ने ऐसे ही थोड़ी कहा था कि आवश्यकता ही अविष्कार की जननी होती है। आज इस मोबाइल वाले ने ये जुगाड़ बनाया है। एक दिन इससे भी बढ़िया कोई चीज़ बना लेगा। कुछ करने का जुनून होना चाहिए इंसान के भीतर। सब कुछ आसानी से हो जाता है फिर तो।

Comments are closed.