क्या आप जानते हैं BCCI महिला क्रिकेटरों को कितना सैलरी देता है? अभी जानें

जानिए भारतीय महिला CRICKETERS को कितनी सैलरी देती है BCCI

बीसीसीआई दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड है और इसकी मालियत 16 हज़ार 300 करोड़ के आस पास है। बीसीसीआई की कुल संपत्ति आईसीसी से भी अधिक है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि बीसीसीआई भारत की महिला क्रिकेटर्स को कितनी सैलरी देती है। बीसीसीआई ने भारतीय महिला क्रिकेटर्स को 3 केटेगरी में बाटा हुआ है। ये तीन भाग हैं A , B और C .

बीसीसीआई ने ग्रेड A में चार क्रिकेटर्स को शामिल किया है। जिसमें भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज और झूलन गोस्वामी आती हैं। मिताली जहाँ अपनी खूबसूरती और बेबाक अंदाज़ के लिए जानी जाती हैं वहीं झूलन गोस्वामी अपनी कद काठी के लिए जानी जाती हैं। बीसीसीआई की तरफ से ग्रेड A के खिलाड़ियों को 50 लाख रुपए सालाना सैलरी मिलती है।

बीसीसीआई ने ग्रेड A में जो दो खिलाड़ी और हैं जिनका नाम है स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर। इन दोनों खिलाड़ियों को भी बीसीसीआई की तरफ से 50 लाख रुपए सालाना सैलरी मिलती है।

बीसीसीआई ने ग्रेड B में 6 खिलाड़ियों को जगह दी है। इन खिलाड़ियों में शामिल हैं पूनम यादव ,वेद कृष्णमूर्ति , राजेश्वरी गायकवाड़ ,एकता शिष्ट , शिखा पांडे और दीप्ति शर्मा .इन सभी 6 खिलाड़ियों को बीसीसीआई की तरफ से 30 लाख रुपए सालाना सैलरी मिलती है।

बीसीसीआई ने ग्रेड C में 9 खिलाड़ियों को जगह दी है। इस लिस्ट में मानसी जोशी ,अनुजा पाटिल , मोना मेश्राम और तानिया भाटिया जैसे खिलाड़ी शामिल हैं।

इन खिलाड़ियों को सालाना 10 लाख रुपए सैलरी मिलती है। सैलरी के अलावा इन खिलाड़ियों को मैच खेलने की फीस अलग से मिलती है जिसे मैच फीस कहते हैं।

Comments are closed.