लीवर ख़राब होने के लक्षण और कारण जरूर जानलें बड़े काम की है ये जानकारी

Image result for लीवर ख़राब होने के लक्षण और कारण जरूर जानलें बड़े काम की है ये जानकारी
दोस्तों आज के जमाने में बीमारियां इतनी घर बना दी जा रही है कि आप इन से बच नहीं पाओगे क्योंकि आजकल बाजार में जो चीजें बनती हैं वह केमिकल युक्त होती हैं जैसे की कचोरी ,समोसा ,फास्ट फूड, पेप्सी ,सिगरेट, तंबाकू बहुत सी ऐसी चीजें होती हैं जो स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होती है उन्हें हम बहुत ही बड़े चाव से खाते हैं पीते हैं लेकिन इसका नतीजा आज के 5 साल, 7 साल बाद हमें नजर आता है और हम एक घातक बीमारी की चपेट में आ जाते हैं हमने आपको नीचे कुछ चीजें दिखाई है आप उन्हें समझे और पता करें कि क्या हमारा भी लीवर खराब नहीं है अगर आपको यह लक्षण दिखते हैं तो समझ लेना कि मेरा लीवर खराब हो चुका है या खराब होने वाला है इसके लिए आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और अपने आप को बचाएं
लिवर फेलियर की समस्या अब आम सुनने को मिल रही है क्योंकि हमारा लाइफस्टाइल ही खराब हो गया है। लिवर खराब तो पूरा शरीर खराब क्योंकि इसका असर हमारे डाइजेस्टिव सिस्टम पर पड़ता है जो धीरे धीरे शरीर को कमजोर करने लगता है, लिवर खराबी के कारण शरीर में हेपेटाईटस, फैटी लिवर, लिवर सोरायसिस, लिवर कैंसर जैसी बीमारियां हो सकती है।
..जैसे खाया-पीया नहीं पच पाता

.शरीर जल्दी थकने लगता है
.यूरिन का रंग गहरा पीला हो जाए
. पेट में दर्द व सूजन
. पैरों व घुटनों में सूजन आना
. बेवजह वजन का कम होना या बढ़ना

आखिर लिवर किस वजह से कमजोर होने लगता है…
.धूम्रपान-एल्कोहल का सेवन सबसे बड़ा कारण
.ज्यादा ऑयली और जंक फूड खाने से
.कम और ज्यादा खाने से
.रेड मीट का ज्यादा सेवन
.प्रदूषण की वजह से
.पानी कम पीने से
.फिजिकल एक्टिविटी ना करने वालेअब जानिए आपने अपने लिवर को हैल्दी कैसे रखना है
फिटनेस एक्सपर्ट की मानें तो जूस यानि लिक्विड चीजें आप के लिवर को हैल्दी रखती हैं.लौकी, हल्दी, धनिया, नींबू, गिलोय व काले नमक के जूस का जूस बनाएं और पीएं

. इसके अलावा आप गाजर, आवंला और सेंधा नमक को मिलाकर भी जूस बना सकते हैं।
. अपने खाने में खिचड़ी, दाल को एड करे
. पालक, चुंकदर के जूस में एक चुटकी काली मिर्च मिला कर पीएं।
वहीं, कुछ योगासन भी लिवर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं जैसे आप धनुरासन, गोमुख आसन, नौकासन करके अपनी बॉडी और अपने लिवर को हेल्दी रख सकते हैं।

Comments are closed.