अगर आपको भी आते हैं बार बार चक्कर तो हो जाएँ सावधान, तुरंत अपनाएं ये तरीके

Image result for अगर आपको भी आते हैं बार बार चक्कर तो हो सकता है ये कारण, बचने के लिए कर सकते हैं ये उपाय
चक्कर आना एक सामान्य स्थिति है. थकान के कारण भी चक्कर आ सकते हैं, लेकिन यदि ऐसा बार-बार व बिना कारण के हो रहा है तो यह बड़ी बीमारी का इशारा होने कि सम्भावना है.
डाक्टर केएम नाधीर के अनुसार, चक्कर आने को आम बोलचाल की भाषा में सिर घूमना भी बोला जाता है. लगातार चक्कर आने से ज़िंदगी बुरी तरह प्रभावित होने कि सम्भावना है. चक्कर आने के कारण कई बार अस्पष्ट होते हैं. चक्कर आने के साथ ही मरीज बेहोश होने लगे तो तत्काल चिकित्सक को दिखाना चाहिए.
बार-बार चक्कर के पीछे माइग्रेन होने कि सम्भावना है. इसके अतिरिक्त जो लोग बेहद तनाव लेते हैं, उन्हें भी यह शिकायत हो सकती है. सामान्य अवस्था में ब्लड शुगर या ब्लड प्रेशर कम होने से चक्कर आते हैं. यदि ब्लड प्रेशर में तेज उतार-चढ़ाव आ रहा है तो स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है. गर्मी के दिनों में बेहद थकान या शरीर में पानी की कमी होने से चक्कर आ सकते हैं. चक्कर का कान से सीधा संबंध है. कान की चोट का पहला प्रभाव चक्कर के रूप में सामने आता है.
चक्कर रोकने के घरेलू उपाय

स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं. किसी भी तरह का नशा न करें. ब्लड प्रेशर सामान्य रखने का कोशिश करें. ऐसी चीजों का सेवन न करें, जिनका प्रभाव ब्लड प्रेशर बढ़ाता या घटाता है. तनाव लेना कम करें. पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं. सोकर उठने पर एकदम खड़े न हो जाएं. सहारा लेकर उठें. तेज लाइट वाले उपकरणों से दूर रहें. कान का दर्द है तो उपचार करवाएं. इसी तरह सर्दी जुकाम या साइनस का संक्रमण है तो इलाज लें.

डाक्टर लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, अदरक चक्कर रोकने में सबसे अच्छा उपाय है. अदरक को छोटे टुकड़ों में काट कर चबाएं. तेज अदरक की चाय पीने से भी तत्काल आराम मिलता है. नींबू भी इसी तरह आराम दिलाता है. इसमें उपस्थित विटामिन सी शरीर को मजबूती प्रदान करता है व चक्कर रोकता है. आंवले मे उपस्थित विटामिन-ए भी यही कार्य करता है. शहद से भी शरीर को एनर्जी मिलती है. शहद को सेव के सिरके के साथ लिया जाए तो स्थायी फायदा होने कि सम्भावना है.
चक्कर आ रहे हैं तो क्या करें
चक्कर आ रहे हैं तो तत्काल अपने जगह पर बैठ जाएं. यदि किसी ऊंची स्थान खड़े हैं तो सावधान रहें. चक्कर लगातार आ रहे हैं तो आंखें बंद करके लेट जाएं. पानी पिएं. ब्लड प्रेशर कम महसूस हो रहा है तो कुछ मीठा खाने की प्रयास करें. हर्बल टी या किसी भी तरह के फल अथवा फल के जूस का सेवन करें. रोज योग या ध्यान लगाने से भी चक्कर आने की बीमारी से निजात मिलती है. चक्कर आना कई बार एंग्जाइटी अटैक का लक्षण होता है. यानी चिंता का लक्षण. अक्सर जब एंग्जाइटी अटैक आते हैं तो ऐसा महसूस होता है जैसे आप पूरी सांस नहीं ले पा रहे हैं व चक्कर अनुभव होता है. इसके बचने के लिए गहरी सांस लें.