प्यार में लड़कियां किस हद तक पागल हो सकती हैं?

credit: third party image reference

 

  1. लड़के प्यार में पागल हो तो देवदास बन जाते है और प्यार पाने की बजय उसे तमाशा करके खो देते है लेकिन लडकिया जब प्यार में पागल हो जाती है तो एकदम अल्लाउदीन खिलजी बन जाती है और साम दाम दंड भेद सब कुछ इस्तेमाल करती है क्योंकि वो जानती है देवदास बन गए तो न घरके ना घाट के हो जाएंगे तो इससे बेहतर है कोई अच्छा अपने मन के जैसा जीवनसाथी चुन लो और हाथ धोके पीछे पड़ जाओ, ताजुब की बात ये है कि लड़कियों के भावनाओ को जब ठेस लगती है तो वो लड़को की तरह अभिमान दिखाने की बजय रो रो के तुम्हारा ध्यान खिंचती है ताके तुम पिघल के उसको अपनी बाहोंमे लेलो और खुद गिरफ्तार हो जाओ.
  2. आम तौर पे बुद्धिमान लडकिया अपना पागलपन सीधे सीधे प्यार का इजहार करके नही देती लेकिन वो अपनी अदाओं से कुछ ऐसी तरंगे तुम्हारे पास छोड़ती है जिससे कि तुम आकर्षित होने लगते हो, अगर उससे काम नही बना तो तुम्हारे साथ दोस्ती करती है तुम्हे एकदम बच्चे की तरहा ट्रीट करना चालू कर देती है और फिर तुम्हे लगने लगता है कि तुम्हे दूसरी माँ ही मिल गयी हो फिर तुम भी बच्चे बन जाते हो, धीरे धीरे तुमसे बात करके तुम्हारी चाहते जान लेती है ,शुरवात में तो तुम्हे ऐसा लग सकता है कि ये एक हसीन सपना है क्योकि लड़की खुद होके तुमसे फ़्लर्ट करती है कभी कभी तो लड़की आसपास के माहौल का भी खयाल नही करती बीच लोगोके भीड़ में भी तुम्हे चूमने से नही कतराती, फिर तुम कहते हो कि “ये क्या कर रही हो तुम” फिर वो कहेंगी की”क्यों तुम जब करते हो तब सब चलता है और हम करते है तो गलत लगता है” फिर तुम सिर पे हाथ रख के सोचने लग जाते हो कि किससे मेरा पाला पड़ा है और कहानी यहापे खत्म नही होती क्योकि लड़की को तुम जीवनभर के लिये चाहिय होते हो,इसके बाद तुमने ब्रेक अप करने की कोशिश की तो लड़की फिर तुम्हे धमकाने से भी बाज़ नही आएगी और घर मे खुद होके जाके बता देंगी की “माँ पापा मुझे माफ़ करदो लेकिन मैं तुम्हारे सुझाव के लड़के से शादी नही कर सकती क्योंकि मैं एक लड़के से बहोत प्यार करती हूं और वो लड़का भी मेरे से बहोत प्यार करता है हम इतने दिनों से एक दूसरे को जानते है हमने साथ मिलके ‘कहो ना प्यार है’ फ़िल्म देखी ती ,हम उस लव पार्क में बैठके घण्टो बाते किया करते थे वगैरा वगैरा”
  3. लड़की के पास काफी चश्मदीद गवाह रहते है और अब उसके रिश्तेदारों को भी अपनी बात मनवाने के लिये राज़ी कर लेती है. ‘वा क्या बात है ऐसी लडकियो की जिन्हे किसमत ने गुलामी की बजय हुकूमत करने के लिय बनाया है’

Comments are closed.