दूसरे वनडे में श्रीलंका ने वेस्टइंडीज को 161 रन से हराया, मैच में बने 5 बड़े रिकॉर्ड, अटापट्टू-जयसूर्या का रिकॉर्ड भी टूटा

महिंदा राजपक्षे इंटरनेशनल स्टेडियम, हंबनटोटा में आज दूसरा वनडे मैच खेला गया. जिसमे मेजबान टीम श्रीलंका ने वेस्टइंडीज को 161 रनों से हराकर यह वनडे सीरीज अपने नाम कर ली. इस जीत के साथ श्रीलंका ने इस सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है. आइए जानते हैं इस मैच के बारे में..
श्रीलंका ने 345 रन बनाये :-

SL-WI: श्रीलंका ने 2-0 से जीती सीरीज, रचा इतिहास, इसे मिला मैन ऑफ द मैच, टूटे कई रिकॉर्ड

 
 

टॉस हारने के बाद श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 345/8 रन बनाए. जिसमे श्रीलंका के लिए कुशल मेंडिस ने 119 रनों की शतकीय पारी खेली. जबकि ओपनर अविष्का फर्नांडो ने ताबड़तोड़ 127 रन बना डाले. इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 239 रनों की रिकॉर्ड पार्टनरशिप की. जिससे वेस्टइंडीज को मैच जीतने के लिए 346 रनों का लक्ष्य मिला.
वेस्टइंडीज की बल्लेबाजी :-

 
 

346 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज की पूरी टीम 184 रन बनाकर आल आउट हो गई. जिसमे उनके लिए शाई होप ने सर्वाधिक 51 रन बनाए. जबकि निकोलस पूरन ने 31 रन बनाए.

 
 

होप के अलावा और कोई बल्लेबाज बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहा.

 
 

इस तरह श्रीलंका ने यह मैच 161 रनों से जीत लिया है. इस जीत के साथ श्रीलंका ने यह सीरीज भी 2-0 से जीतकर अपने नाम कर ली है.

 
 

श्रीलंका के लिए लक्षन संदकन और हसरंगा ने सर्वाधिक 3-3 विकेट लिए. जबकि नुवान प्रदीप ने 2 विकेट चटकाए.
इसे मिला मैन ऑफ द मैच

 
 

इस मैच में 127 रनों की तूफानी पारी खेलने के लिए अविष्का फर्नांडो को मैन ऑफ द मैच चुना गया.
टूटे कई रिकॉर्ड :-
1. श्रीलंका ने आज वेस्टइंडीज पर रनों के हिसाबी से सबसे बड़ी जीत दर्ज की. आज उन्होंने विंडीज को 161 रनों से हराया. इस मामले में उन्होंने साल 2007 में बने अपने पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया.
2. हंबनटोटा के मैदान पर यह श्रीलंका की तीसरी सबसे बड़ी वनडे जीत का रिकॉर्ड है.

 
 

इससे पहले श्रीलंका ने पिछली बार अपने घर पर साल 2015 में वनडे सीरीज जीती थी. यानी इसके करीब 5 साल बाद श्रीलंका ने घर पर वनडे सीरीज जीती है.

 
 

3. शाई होप ने आज 51 रन बनाए. इस पारी के दौरान उन्होंने एशिया में सर्वाधिक औसत से रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कर लिया. इस मामले में उन्होंने कोहली-आज़म समेत कई दिग्गजों को पीछे छोड़ दिया.
4. श्रीलंका ने आज 345 रन बनाये. जिसमे कोई छक्का नहीं शामिल था. यह वनडे इतिहास का ऐसा पहला स्कोर बन गया है, जिसमे कोई छक्का शामिल नहीं था. इससे पहले यह रिकॉर्ड इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच साल 2011 में खेले गये मैच के नाम दर्ज था.

 
 

5. अविष्का फर्नांडो और कुशल मेंडिस ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए 239 रनों की साझेदारी निभाई. जो वनडे में श्रीलंका के लिए तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी करने वाली तीसरी जोड़ी बन गई है. इस मामले में उन्होंने अटापट्टू-जयसूर्या की जोड़ी को पीछे छोड़ दिया.

Comments are closed.