वही शख्स आकेला छोड गया मुझे इस दुनिया कि भीड में, जिसने दुनिया की भीड़ से चुन के मुझे अपना बनाया था।

जरूरी नहीं हर ताल्लुक का मतलब मोहब्बत हो,

कुछ रिश्ते मोहब्बत से ऊंचा मकाम रखते हैं।

 

जरूरी नहीं हर ताल्लुक का मतलब मोहब्बत हो, कुछ रिश्ते मोहब्बत से ऊंचा मकाम रखते हैं

हर कदम हर पल हम आपके साथ है,

भले ही आपसे दूर सही, लेकिन आपके पास हैं,

जिंदगी में हम कभी आपके हो या न हों,

लेकिन हमे आपकी कमी का हर पल एहसास हैं।

 

नाकाम मोहब्बतें भी बड़े काम की होती हैं,

दिल मिले ना मिले नाम मिल जाता है।

वही शख्स आकेला छोड गया मुझे इस दुनिया कि भीड में,

जिसने दुनिया की भीड़ से चुन के मुझे अपना बनाया था।

 

बात करने को तरसा हूं,

आवाज सुनने को तरसा दूंगा।

 

इस दिल की दास्तां भी बडी अजीब होती है,

बड़ी मुश्किल से इसे खुशी नसीब होती है।

किसी के पास आने पर खुशी हो न हो,

पर दुर जाने पर बडी तकलीफ होती है।

 

दोस्तों, आज की आर्टिकल आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बतायें।

Comments are closed.