मेरे हर कदम पर फूल रखता है, मोहब्बत में मोहब्बत का फरिश्ता साथ चलता है।

1. यह अजब मौसम है, मेरे हर कदम पर फूल रखता है, मोहब्बत में मोहब्बत का फरिश्ता साथ चलता है। मैं जब सो जाऊँ, इन आँखों को चूम लेना, यकीं आ जायेगा, पलकों तले भी दिल धड़कता है।

अगर बुरा ना मानो मेरे हमदम तो तुमको जिंदगी कह दूँ

2. अगर इजाजत हो तो पूछ लूँ मैं तेरी इन ज़ुल्फ़ों से, सुना है ज़िंदगी एक खूबसूरत जाल है।

3. हमें तुमसे प्यार है हमारा इम्तिहान ले लो, अगर चाहो तो दिल ले लो अगर चाहो तो जान ले लो।

4. मोहब्बत की कहूँ देवी या तुमको बंदगी कह दूँ, अगर बुरा ना मानो मेरे हमदम तो तुमको जिंदगी कह दूँ।

5. मेरी इन आँखों के ख्वाब और दिल के अरमान हो तुम। तुम से ही तो मैं हूँ और मेरी पहचान हो तुम। मैं अगर ज़मीन हूँ तो मेरे आसमान हो तुम, सच मानो तो मेरे लिए सारा जहान हो तुम।

6. मेरी जिन्दगी की यह सबसे बड़ी चाहत है, मेरे पास रहो तुम हमेशा मेरी साँस बनकर।

7. हम खुशबू की तरह आसपास बिखर जायेंगे, सुकून बनकर दिल में उतर जायेंगे। महसूस करने की कोशिश कीजिये, दूर होकर भी आपके पास नजर आएंगे।

8. जब कभी सिमटोगे तुम मेरी इन बाहों में आकर, मोहब्बत की दास्तां, मैं नहीं मेरी धड़कने सुनाएंगी।

यह लेख आपको कैसा लगा? हमें जरूर बताएं। इस लेख को लाइक व दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें, धन्यवाद।

Comments are closed.