वेस्टइंडीज के हाथों बुरीतरह हारने के बाद इस बात से बेहद नाराज़ दिखे कप्तान कोहली, कह दी इतनी बाड़ी बात

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को जीत का श्रेय देते हुए कहा कि धीमी पिच होने के कारण टीम प्रबंधन को गेंदबाजी में 6 विकल्प पसही लगे थे। भारत इस मैच में चार मुख्य गेंदबाजों के साथ उतरा था। लेकिन उसे 5वें गेंदबाज की कमी खली। क्योंकि शिवम दुबे (7.5 ओवर में 68 रन) और केदार जाधव (एक ओवर में 11 रन) प्रभाव नहीं छोड़ पाए।

वेस्टइंडीज ने यह मैच 8 विकेट से जीतकर 3 वनडे मैचों की सीरीज में शुरुआती बढ़त बना ली है। विराट कोहली ने मैच के बाद कहा कि, ‘‘हमें लगा कि गेंदबाजी में छह विकल्प सही होंगे, खासतौर तब जबकि पिच धीमा खेल रही थी और केदार एक विकल्प था। परन्तु दूधिया रोशनी में यह (पिच) अलग तरह से खेली।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि उन्होंने बहुत अच्छी बैटिंग की। तेज गेंदबाज गेंद पर अच्छी पकड़ नहीं बना पा रहे थे। हेटमेयर ने शानदार पारी खेली और होप ने भी। ’’ कोहली ने भारतीय पारी में अर्धशतक जड़कर उसे शुरुआती झटकों से उबारने वाले श्रेयस अय्यर (70) और ऋषभ पंत (71) की भी प्रशंसा की।

उन्होंने कहा कि, ‘‘मैं और रोहित आज नहीं चल पाये और ऐसे में उन दोनों के पास अवसर था और उन्होंने धीमी पिच पर बहुत बढ़िया बल्लेबाजी की।’’ रविंद्र जडेजा के आउट होने के बारे में कोहली ने कहा, ‘‘फील्डर ने अपील की? अंपायर ने कहा ‘नॉट आउट’। मैदान के बाहर बैठे लोग यह तय नहीं कर सकते की वहां क्या हुआ। मैंने पहले कभी ऐसा होते हुए नहीं देखा।’’

Comments are closed.