सीरीज प्रारंभ होने से ठीक पहले आंद्रे रसेल ने दे दी भारत को चुनौती, कह दी इतनी बड़ी बात

इस समय भारतीय टीम को उसके घर में हरा पाना दुनिया की किसी भी टीम के लिए बेहद मुश्किल काम है. लेकिन वेस्टइंडीज टीम के विस्फोटक आलराउंडर आंद्रे रसेल को यकीन है कि लिमिटेड ओवरों के नये कप्तान कीरोन पोलार्ड की अगुआई में वेस्टइंडीज टीम यह कारनामा कर सकती है.

आपको बता दें कि आंद्रे रसेल इस समय अबुधाबी में खेली जा रही टी-10 लीग में नॉर्दन वॉरियर्स का हिस्सा हैं. रसेल ने हाल ही में एक खास बातचीत में यह खुलासा किया और कहा कि निश्चित तौर पर हम टीम इंडिया को भारत में हरा सकते हैं. हम पहले भी ऐसा कर चुके हैं. वनडे और टी-20 में वेस्टइंडीज टीम के नये कप्तान कीरोन पोलार्ड अच्छे नेतृत्वकर्ता वाले कप्तान हैं.

उन्होंने आगे कहा कि आखिरकार वेस्टइंडीज को अब एक ऐसा कप्तान मिल गया है. जो सामने से टीम की अगुआई करना जानता है. हमें मालूम है कि टीम इंडिया को इंडिया में हरा पाना इतना आसान नहीं होगा. हमारे सभी खिलाड़ियों को अपने खेल पर फोकस करके एक टीम की तरह खेलना होगा.

आपको बता दें कि वेस्टइंडीज टीम दिसम्बर में भारत दौरे पर आ रही है. जहाँ वो तीन वनडे और तीन टी-20 मैच खेलेगी.

भारत दौरे के लिए अपनी उपलब्धता पर रसेल ने कहा कि यह तो कैरेबियाई चयनकर्ताओं पर निर्भर करेगा कि वे मुझे टीम में शामिल करते हैं या नहीं. यकीनन वे सर्वोत्तम टीम चुनने की ही कोशिश करेंगे. अगर मेरा चयन होता है. तो अपना सर्वोत्तम देने का प्रयास करूंगा.

इसके आगे रसेल ने कहा कि वो हर गेंद को जोर से मारने की कोशिश करते हैं, क्योंकि…

रसेल ने अपनी बल्लेबाजी शैली के बारे में कहा कि मैं जानता हूं कि मेरी बल्लेबाजी शैली बहुत मजबूत नहीं है. मैं क्लासिकल कवर ड्राइव नहीं लगा सकता. बल्कि गेंद को कवर ड्राइव के ऊपर से उड़ाकर मर सकता हूं.

मैं साफ-साफ यही कहूंगा कि मेरी बल्लेबाजी में ताकत और आक्रामकता का मिश्रण है. मेरा लक्ष्य हरेक गेंद को जोर से मारना होता है. दरअसल कोई तकनीक टेस्ट में चलती है और कोई टी-20 में. जिस तकनीक से टेस्ट में सफलता मिल सकती है. उस तकनीक से टी-20 में नहीं मिल सकती.

आइपीएल के कारण भारत में मेरी लोकप्रियता बढ़ी है. सब चाहते हैं कि मैं मैदान में उतरकर गेंदबाजों को पीट सकूं. भारत में क्रिकेट प्रेमियों के सामने अच्छा खेलना बड़ी उपलब्धि है.

Comments are closed.