वर्ल्‍ड कप सेमीफाइनल रनआउट पर पहली बार बोले महेंद्र सिंह धोनी, ऐसी बात बोल कर सब को चौंका दिया

2407
Loading...

9 जुलाई 2019 को करोड़ों भारतीय क्रिकेट फैंस के दिल उस समय टूट गए थे जब न्‍यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में एमएस धोनी रनआउट होकर पवेलियन लौट गए थे। धोनी और रवींद्र जडेजा ने उम्‍दा पारियां खेलकर भारत की मैच में वापसी कराते हुए जीत की राह दिखाई थी। जडेजा के आउट होने के बाद भी धोनी ने किला लड़ाए रखा और भारत की जीत की उम्‍मीदों को जिंदा रखा। मगर यह संभव नहीं हो सका।

Loading...

मार्टिन गप्टिल के एक सटीक थ्रो ने भारत के विश्‍व विजेता बनने के सपने को तोड़ दिया। निराश धोनी उदास भाव के साथ पवेलियन की तरफ लौट गए। भारतीय टीम 240 रन के लक्ष्‍य का पीछा कर रही थी और उसे जीत के लिए दो ओवर में 31 रन की दरकार थी। धोनी पर टीम को जीत दिलाने की बड़ी जिम्‍मेदारी थी। न्‍यूजीलैंड के कप्‍तान केन विलियमसन ने पारी का 49वां ओवर लोकी फर्ग्‍यूसन से कराया। भारतीय विकेटकीपर बल्‍लेबाज ने डीप बैकवर्ड प्‍वाइंट के ऊपर से छक्‍का जमाकर ओवर की शुरुआत की।

ओवर की तीसरी गेंद पर एमएस धोनी दो रन लेने के लिए दौड़े। मगर मार्टिन गप्टिल के सटीक थ्रो के आगे धोनी क्रीज में पहुंचने से दो इंच पीछे रह गए। वैसे, आमतौर पर धोनी इस तरह के रन लेने में समय पर क्रीज के अंदर होते दिखे हैं, लेकिन वह दिन अलग था। धोनी को भी इस रनआउट पर काफी मलाल है।

इस बार में उन्‍होंने अपनी चुप्‍पी तोड़ी और खुलासा किया, ‘मैं अपने आप से कहता रहता हूं कि तब डाईव क्‍यों नहीं लगाई। वह दो इंच, मैं खुद को बार-बार कहता हूं। एमएस धोनी आपको डाईव लगाना चाहिए थी।’ 38 साल के धोनी ने इसके बाद से कोई अंतरराष्‍ट्रीय मुकाबला नहीं खेला है। उनके संन्‍यास को लेकर काफी चर्चा हुई, लेकिन धोनी ने खुद कहा कि जनवरी तक उनसे इस बारे में कोई सवाल नहीं किया जाए। भारतीय टीम के हेड कोच रवि शास्‍त्री ने कहा कि आगामी आईपीएल धोनी का भविष्‍य तय करेगा।

Loading...